NUJI News

NUJI News : जंतर-मंतर से बंग भवन तक मार्च करेंगे पत्रकार संगठन, रिपब्लिक बांग्ला टीवी के पत्रकार की गिरफ्तारी के खिलाफ एनयूजेआई का संघर्ष का ऐलान

NUJI News : जंतर-मंतर से बंग भवन तक मार्च करेंगे पत्रकार संगठन, रिपब्लिक बांग्ला टीवी के पत्रकार की गिरफ्तारी के खिलाफ एनयूजेआई का संघर्ष का ऐलान

Published By Roshan Lal Saini

NUJI News : नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स (इंडिया) और दिल्ली जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ने पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में रिपब्लिक बांग्ला के रिपोर्टर संतु पान की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करते हुए मंगलवार को संघर्ष करने का ऐलान किया है। पत्रकार संगठनों की तरफ से बुधवार को बंग भवन पर प्रदर्शन करन की घोषणा की गई है। पत्रकार की गिरफ्तारी के विरोध में जंतर मंतर से हैली रोड स्थित बंग भवन तक मार्च किया जाएगा।

NUJI News

एनयूजेआई और डीजेए की आज मंगलवार को 7 जंतर-मंतर कार्यालय पर आयोजित बैठक में कहा गया कि पश्चिम बंगाल में अघोषित आपातकाल लगाकर मीडिया का गला घोंटा जा रहा है। एनयूजेआई और डीजेए ने गिरफ्तार पत्रकार को तुरंत रिहा करने की मांग की है। पत्रकार संगठनों ने मांग की है कि पत्रकारों को राज्य में स्वतंत्र तरीके से काम करने दिया जाए। NUJI News

एनयूजेआई के अध्यक्ष रास बिहारी ने कहा कि एक तरफ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपराधियों की खुली छूट दे रखी है और दूसरी तरफ गुंडाराज का खुलासा करने वाले पत्रकारों को जेल में बंद किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मीडियाकर्मियों पर बंगाल में सत्तारूढ़ दल तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों द्वारा लगातार हमले किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एनयूजेआई का तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल पश्चिम बंगाल का दौरा कर पत्रकारों पर हो रहे हमले और उत्पीड़न की विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर केंद्र सरकार को सौंपेगा। NUJI News

ये भी पढ़िए … INDIA गठबंधन की बैठक में समन्वय समिति और अन्य ग्रुप बनाने की जरूरत पर दिया जोर

NUJI News

एनयूजेआई के पूर्व अध्यक्ष और प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के सदस्य प्रजानंद चौधरी ने कहा कि इस प्रकार की घटना निंदनीय है। उन्होंने कहा कि एनयूजेआई की पश्चिम बंगाल यूनिट ने प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इस बाबत पत्र लिखकर दोषियों पर अविलंब कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की घटना निश्चित तौर पर प्रेस की स्वतंत्रता पर करारा हमला है। NUJI News

ये भी देखिये …

एनयूजेआई के महासचिव प्रदीप तिवारी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में पत्रकारों के सामने स्वतंत्र रूप से कार्य करना एक बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि इस बारे में संघर्ष की रूपरेखा बनाई जा रही है। इस मामले की प्रेस काउंसिल से भी शिकायत की जाएगी। दिल्ली जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के संयोजक राकेश थपलियाल ने कहा कि पश्चिम बंगाल में पत्रकारों को गिरफ्तार करने की पहले भी कई घटनाएं हुई है। इस कारण कई मीडिया संस्थान बंद हो गए। NUJI News

ये भी पढ़िए … सपा-कांग्रेस के बीच हो गया गठबंधन, केवल 17 सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

वरिष्ठ पत्रकार अवधेश कुमार ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार महिलाओं के शारीरिक उत्पीड़न करने वाले और उनकी जमीनों को कब्जाने के खुलासे रोकने के लिए पत्रकारों की गिरफ्तार कर रही है। उन्होंने कहा कि विगत 7-8 वर्षों में इस प्रकार की घटनाओं में लगातार वृद्धि हुई है। वैचारिक आधार पर किसी पत्रकार के साथ इस प्रकार की मानवीय घटना सचमुच चिंताजनक है। NUJI News

इसका सभी स्तर पर विरोध किया जाना चाहिए। बैठक में वरिष्ठ सदस्य अशोक किंकर, प्रेस काउंसिल के पूर्व सदस्य आनंद राणा, एनयूजे की पूर्व उपाध्यक्ष सीमा किरण, संसद टीवी के वरिष्ठ पत्रकार और डीजेए के पूर्व अध्यक्ष मनोज वर्मा, नरेश गुप्ता, अशोक बर्थवाल आदि पत्रकारों ने पश्चिम बंगाल सरकार की रवैये की निंदा की और गिरफ्तार पत्रकार की रिहाई की मांग उठाई है। NUJI News

WWW.NEWS14TODAY.COM

Similar Posts

Atiq Ahmad Murder : लखनऊ – कालिदास मार्ग (CM आवास) इलाके में मीडिया कर्मियों प्रवेश पर लगाया प्रतिबंध, सुरक्षा का हवाला देकर लगाया गया प्रतिबंध, किसी भी मंत्री के आवास नहीं जा सकेंगेमीडिया कर्मी, कालिदास मार्ग पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, दयाशंकर सिंह, जितिन प्रसाद, सुरेश खन्ना, सूर्य प्रताप शाही,नंद गोपाल नंदी के हैं आवास, अगले आदेश तक मिडिया का प्रवेश रहेगा बंद, डिप्टी सीम केशव प्रशाद मौर्य और बृजेश पाठक ने रविवार में होने वाले सभी कार्यक्रम किए रद्द।